एक गरीब लड़के की सच्ची प्रेम कहानी,heart touching true love story in hindi

एक गरीब लड़के की सच्ची प्रेम कहानी|true love story in hindi

Ek garib ladke ki sachi prem kahani, true love story in hindi
True love story


दोस्तों आप सब ने आज तक काफी लव स्टोरी फिल्में देखी होगी,प्यार की बहुत सी कहानियां पढ़ी होगी, परंतु आज मैं आपको एक ऐसी दर्द भरी सच्ची प्रेम कहानी बताने वाला हूं, जो शायद दुनिया की सबसे अनोखी प्रेम कहानियों में से एक होगी।और यह कहानी सिर्फ एक लड़के की नहीं है, बल्कि यह उन लाखों करोड़ों लोगों की कहानी है। जो किसी वजह से अपने प्यार का इजहार नहीं कर पाते, और उनके ख्वाब अधूरे ही रह जाते हैं। तो चलिए बिना देर किए कहानी पढ़ते हैं।

अमीर लड़की और गरीब लड़के की सच्ची प्रेम कहानी


एक गांव में का बहुत ही मासूम, खूबसूरत, और अच्छा लड़का रहता था उसके परिवार में उसके मां-बाप भाई-बहन सभी थे। परंतु दुख की बात यह थी कि उसके मां-बाप बहुत गरीब थे। इतना गरीब की बड़ी मुश्किल से उनका गुजारा हो पाता था। वह लड़का पढ़ने में काफी तेज और समझदार था। वह गांव के ही सरकारी स्कूल में पढ़ता था। एक दिन की बात है, खेल-खेल में गांव की ही एक खूबसूरत लड़की से उसकी आंखें चार हो गई। और सिर्फ आंखें चार ही नहीं हुई बल्कि वह लड़की पहली नजर में ही उसके दिल की गहराईयों में उतर गई। वह लड़की काफी अमीर घर की इकलौती बेटी थी। वह लड़की भी मन ही मन उस लड़के से प्यार करने लगी। इस तरह वह मासूम लड़का बचपन में ही प्यार की गहराईयों में खो गया। वह उस लड़की से इतना प्यार करने लगा कि उसे देखें बिना उसका जीना मुश्किल हो गया। वह लड़का उस लड़की के प्यार में इतना पागल हो गया कि उसे ना पढ़ने में मन लगता और ना उसे खाने पीने का होश रहता। वह 24 घंटे उसके ही ख्यालों में खोया रहता। खैर दिन तो कैसे भी उसे देखने के चक्कर में कट जाता। परंतु रात भर उसे नींद नहीं आती। रात भर वह बिस्तर पर करवट बदलता रहता कि कब सुबह हो और उसकी झलक मिले। अगर एक दिन भी वह लड़की नजर नहीं आती तो वह अकेले में जाकर रोने लगता था। धीरे धीरे उसका प्यार बढ़ता गया।

उसने ने कई बार अपने प्यार का इजहार करने की कोशिश की मगर कर नहीं पाया। कई बार प्रेमपत्र लिखा लेकिन वह उसे दे नहीं पाया क्योंकि उस लड़की के नजदीक जाते ही उसका दिल जोर-जोर से धड़कने लगता और वह घबराकर अपना इरादा बदल देता। शायद उसके मन में एक डर था कि कहीं वह इंकार न कर दे या उससे नाराज ना हो जाए। वह किसी भी कीमत पर उसे खोना नहीं चाहता था। देखते ही देखते 3 साल बीत गए मगर वे अपने प्यार का इजहार ना कर सके। बस जहां रहते वह एक दूसरे को देखने के बहाने ढूंढते रहते। वह लड़का काफी शर्मिला और संकोची था। शायद इसलिए वह अपने प्यार का इजहार नहीं कर पा रहा था और वह लड़का गरीब था और लड़की अमीर थी शायद यही सोच कर उसकी अपने प्यार का इजहार करने की कभी हिम्मत नहीं हुई। मगर उसका प्यार बिल्कुल सच्चा और पवित्र था। उसने कभी भी उस लड़की के बारे में गलत नहीं सोचा और ना ही उसे कभी गलत नियत से छूने की कोशिश की थी।हां कभी-कभार वे हंसी मजाक कर लिया करते थे परंतु उन्होंने कभी भी एक दूसरे से अपने प्यार का खुलकर इजहार नहीं किया था। इधर धीरे धीरे उस लड़के के घर की आर्थिक हालत बिगड़ने लगी। अपने मां बाप और छोटे-छोटे भाई बहनों का एकमात्र सहारा होने की वजह से उसके ऊपर घर की जिम्मेदारी आ गई थी और वह इस जिम्मेदारी को समझता भी था। अंततः उसके मां-बाप ने उसे पैसे कमाने के लिए शहर भेज दिया।

वह लड़का शहर कमाने तो चला गया लेकिन उसका हाल जल बिन मछली की हो गई। वह 15 साल का लड़का दिन भर काम करता और रात भर उस लड़की की याद में रोता रहता। ऐसे ही करीब 3 महीने बीत गए। एक दिन उसका दिल ऐसा उड़ा कि वह काम छोड़ कर शहर से अपने गांव भाग आया। गांव आकर वह देखता है क्या कि उस लड़की की शादी कल ही होने वाली थी। अब तो उस लड़के को ऐसा लगा कि उसकी सारी खुशियां,सारी दुनिया ही उजड़ गई। लेकिन वह क्या करें एक तरफ प्यार था और एक भाई और एक बेटे का फर्ज था। और दूसरी बात  किे उसने तो कभी उससे अपने प्यार का इजहार भी तो नहीं किया। था। इसलिए वह उस लड़की को भी दोष नहीं दे सकता था। इसके अतिरिक्त उसके पास और भी कई  सारी मजबुरियां थी। जैसे - वह आर्थिक रूप से इतना सक्षम भी नहीं था कि अपने महबूब को जीवन की सारी खुशियां दे सकें।दुसरी तरफ वह अपने गरीब परिवार का आखिरी सहारा था। आखिरकार उसने फैसला कर लिया कि उसे अपने बूढ़े मां बाप और छोटे-छोटे भाई बहनों की खुशी के लिए अपने प्यार की कुर्बानी देनी ही पड़ेगी। अगले दिन उसने किसी से कुछ नहीं कहा और चुपचाप शहर चला गया।उसने उस लड़की को लाख भुलाने की कोशिश की मगर कभी भी उसे भुला नहीं पाया।

आज उस घटना के 17 साल हो गए हैं। उस लड़के की भी शादी हो गई है, बच्चे भी हो गए हैं,और वह अपनी जिंदगी में खुश भी हैं। लेकिन वह लड़का आज भी उस लड़की से उतना ही प्यार करता है, जितना पहले करता था। आज भी  वह लड़की रोज उसके सपनों में आती है और वह फूट-फूट कर रोने लगता है। उसके मन में आज भी एक कसक है कि उसने अपने प्यार का इजहार क्यों नहीं किया। आज भी वो उस लड़की से बताना चाहता है कि वह उससे कितना प्यार करता था। आज भी वह उस लड़की से सिर्फ एक बार पूछना चाहता है कि वह उससे प्यार करती थी या नहीं, मगर परिवारिक मर्यादा और सामाजिक दायरे उसे इसकी इजाजत नहीं देते। लेकिन वह उस लड़की से कल भी प्यार करता था, आज भी प्यार करता है, और हमेशा प्यार करता रहेगा।

आपको इसे भी पढ़ना चाहिए :प्यार करना सही है या गलत

इस कहानी की सीख


दोस्तों इस कहानी से मैं आप सबको 3 सीख देना चाहता हूं कि अगर आप किसी लड़की से सच्चा प्यार करते हैं तो ज्यादा इंतजार ना करें। जल्द से जल्द उससे इजहार कर दें। क्योंकि वक्त का कोई भरोसा नहीं है कि कब क्या हो जाए। वरना आपको भी जीवन भर एक कसक के साथ जीना पड़ेगा क्योंकि ना तो बीता हुआ समय वापस आ सकता है और ना ही ये जिंदगी दोबारा मिल सकती है। दूसरी बात अगर आप किसी से सच्चा प्यार करते हैं तो पहले प्यार को साइड में रखकर, अपने पढ़ाई पर ध्यान दें। अपने लक्ष्य पर ध्यान दें। और अपने जीवन में कामयाब होकर दिखाएं। बड़ा आदमी बन कर दिखाएं नहीं तो यह दुनिया आपका प्यार कभी पूरा नहीं होने देगी क्योंकि ये इस दुनिया का कड़वा सच है कि ये दुनिया जाति और धर्म नहीं बल्कि आपकी हैसियत देखती है। इसलिए इस दुनिया को अपनी हैसियत दिखाना जरूरी है वरना आप की भी प्रेम कहानी अधूरी ही रह जाएगी। तीसरी बात अगर आपको अपने प्यार और अपने परिवार में से किसी एक को चुनना पड़े तो बेशक अपने परिवार को ही चुनना। विशेषकर तब जब पूरा परिवार आप पर ही आश्रित हो। क्योंकि आप अपने मां-बाप के पहला प्यार हो। आपके मां-बाप आपकी खुशी के लिए हजारों कुर्बानियां देते हैं।इस सारी पृथ्वी पर आपके मां-बाप से ज्यादा और कोई आपसे प्यार नहीं कर सकता। इसलिए अपने मां-बाप की खुशी के लिए अपने प्यार को कुर्बान कर देना ही आपके लिए बेहतर होगा। और ये सारी बातें किताबी नहीं है और ना ही किसी हिंदी फिल्म के संवाद। यह मेरा अपना अनुभव है। (क्योंकि ये कहानी किसी और की नहीं बल्कि मेरी अपनी है।)

इसे भी पढ़ें:सच्चा प्यार क्या है

दोस्तों कृपया इस पोस्ट के विषय में अपनी राय नीचे कमेंट बॉक्स में जरुर प्रकट करें और इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों को शेयर करें। हम से जुड़े रहने के लिए हमें FacebookInstagram और Twitter पर जरूर फॉलो करें। आप हमारे YouTube channel पर जाकर इस पोस्ट का वीडियो भी देख सकते हैं।

टिप्पणी पोस्ट करें

9 टिप्पणियां

  1. भाई प्यार हमेसा बहुत रूलाता है दौलत सामने आती हैं

    जवाब देंहटाएं
  2. दिल को छू लिया भाई

    जवाब देंहटाएं
  3. जीवन के उद्देश्य के लिए विजिट करें: https://towardsmukti.blogspot.com/

    जवाब देंहटाएं
  4. Mera vi same Hal hai.mujhse ek ladki bahot pyar karti hai.uska Sadi laga hua tha lekin wo us Sadi ko Tor chuki hai.mujhse Sadi Karne ke liye.uska family Wala mujhse Sadi nahi karna chahta hai q ki Mera family parastithi normal hai esliye.mera commerce student hu me ne bola mujhe time do 2ya 3 saal ki me apna padhai Pura karke me job dhod Kar Sadi Kar luga.fir vi manne ko tyar nahi hai uska family.uska family mere family walo par Jada atiyachar vi Kar raha.or ladki ko Ghar Wala dhamkar thana me jhuta gawahi dilaya hai mujhse ab fasana chahta hai ab me Kya karu

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. aap hamse hamare WhatsApp no 9304451328 par contact kare. ham aapko parsanaly gaid karenge.

      dineshkunar3282@gmail.com के रूप में टिप्पणी की जा रही है
      इस रूप में उत्तर दें:

      App hamse hamare WhatsApp no 9304451328 par contact kare.

      हटाएं

Thanks for your opinion