स्वस्थ शरीर और सुखी जीवन के लिए आपको कितनी देर सोना चाहिए ?

Aadami ko kitne ghante Sona chahie, Kitna Sona chahie
Sleep time

हमेशा स्वस्थ और फिट रहने के 8 चमत्कारी उपाय

नुष्य को प्रतिदिन सामान्यतः कितने घंटे सोना चाहिए। दोस्तों इस विषय पर आप लोगों ने कई सारे आर्टिकल्स पढ़े होंगे। जिसमें सबकी राय अलग अलग-अलग होती है। हेल्थ विशेषज्ञों की मानें तो प्रत्येक व्यक्ति को कम से कम 8 से 10 घंटे जरूर सोना चाहिए। परंतु कुछ मोटिवेशनल स्पीकर्स की माने तो वे कहते हैं कि अगर आप जीवन में सफलता प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको अपनी नींद से समझौता करना पड़ेगा। वहीं कुछ धर्मगुरुओं का मानना है कि मनुष्य को कम से कम सोना चाहिए क्योंकि ज्यादा सोने से शरीर में आलस्य और तामसी गुणों की वृद्धि होती है।अर्थात यहां पर आपके लिए असमंजस की स्थिति बन जाती है और आप सुनिश्चित नहीं कर पाते कि

आदमी को कितनी देर सोना चाहिए


आपको कितनी देर सोना चाहिए। लेकिन आप चिंता मत किजिए क्योंकि इस आर्टिकल में हम आपकी सारी उलझन दुर कर देंगे। आज हम आपको विस्तार से बताएंगे कि वास्तव में आपको कितने घंटे सोना चाहिए।
देखिए पहले तो हम आपको बता देना चाहते हैं कि आपको कितनी देर सोना चाहिए। ये आपके सिवा और कोई तय नहीं कर सकता। क्योंकि आपके शरीर को कितनी नींद की जरूरत है यह आप से बेहतर और कोई नहीं जान सकता। इसलिए आपको किसी दूसरे की सलाह मानने के बजाय नींद से जुड़े कुछ जरूरी पहलुओं को समझने की जरूरत है।

उम्र के‌ अनुसार कितनी देर तक सोना चाहिए


देखिए एक सामान्य इंसान अपनी पूरी जिंदगी में करीब 30 से 35 साल सोता है और यह इंसानी शरीर के वृद्धि और विकास के लिए अति आवश्यक है। अब हम इसे शुरूआत से समझते हैं। एक बच्चा अपनी मां के पेट में 24 घंटे सोता है फिर जन्म के बाद 20 से 22 घंटे सोता है। तत्पश्चात जैसे-जैसे उसकी उम्र बढ़ती जाती है, उसकी नींद धीरे-धीरे कम होती जाती है। जो किशोरावस्था में 10 से 12 घंटे, युवावस्था में 8 से 10 घंटे और वृद्धावस्था आते आते 4 से 6 घंटे तक सीमित हो जाती है। फिर मानव शरीर हमेशा के लिए नींद की आगोश में समा जाता है। नींद मानव शरीर की प्राकृतिक प्रक्रिया है इसलिए अगर आप एक स्वस्थ और खुशहाल जीवन जीना चाहते हैं तो आप किसी भी कारण से नींद को नजरअंदाज नहीं कर सकते। परंतु ध्यान रहे आपको ना तो कम सोना चाहिए और ना ही ज्यादा सोना चाहिए क्योंकि दोनों ही आपके शरीर के लिए घातक है।

कितनी नींद जरूरी ?


फिर प्रश्न ये उठता है कि आप कैसे तय करेंगे कि आपके शरीर को कितनी नींद की  जरूरत है तो हम आपको नींद से जुड़ी कुछ जरूरी बातें बता देते हैं। जिसके आधार पर आप खुद तय कर सकते हैं कि आपको कितनी देर सोना चाहिए। देखिए आपके शरीर की नींद की जरूरत मुख्यतः दो चीजों पर निर्भर करती है, पहला "आपका काम" और दुसरा "आपका भोजन"। इन दोनों चीजों के अनुसार प्रत्येक व्यक्ति की नींद की जरूरत अलग-अलग होती है। अगर आप अधिक मेहनत वाला काम करते हैं तो आपको ज्यादा नींद की जरूरत होगी और अगर आप कम मेहनत वाला काम करते हैं तो आपको कम नींद की जरूरत होगी। जानते हैं ऐसा क्यों होता।

मनुष्य को नींद क्यों आती है ?


जब हम कोई कार्य करते हैं तो हमारे शरीर की कोशिकाएं टूटती है। आपको जानकर हैरानी होगी की प्रतिदिन हमारा शरीर में लाखों कोशिकाएं नष्ट होती है और लाखों कोशिकाएं बनती है। उन नई कोशिकाओं के बनने की प्रक्रिया सोते समय होती है, ताकि हमारे शरीर की ऊर्जा अन्य कामों में खर्च होने के बजाय उन कोशिकाओं को बनाने में उपयोग हो सके। अब हम जितनी अधिक मेहनत करते हैं उतनी ही अधिक कोशिकाएं टूटती है और जितनी ज्यादा कोशिकाएं टूटती है उन्हें दुबारा बनाने के लिए उतनी ही अधिक नींद की जरूरत होती है। इसीलिए ज्यादा मेहनत करने वाले को ज्यादा नींद की जरूरत होती है। उसी प्रकार आप जितना ज्यादा और भारी भोजन करेंगे। आपको उतनी ही ज्यादा नींद की जरूरत होगी और जितना हल्का आपका भोजन होगा। आपको उतनी ही कम नींद की जरूरत होगी। भोजन के पचने में आपके नींद का अहम योगदान होता है। इसलिए आपके भोजन की मात्रा और गुणवत्ता के अनुसार आपकी नींद पर भी असर पड़ता हैं।  अगर आप अपने शरीर के आवश्यकता अनुसार भरपुर नींद नहीं लेंगे तो इसका असर आपके जीवन में साफ दिखाई देगा।

कम सोने के नुक़सान | ज्यादा सोने के नुक़सान

आपने अनुभव किया होगा कि जिस रात आप ठीक से नहीं सोते, उसके अगले दिन आपको सिर दर्द, आलसीपन, चिड़चिड़ापन, मूड खराब रहना और पाचन संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इस प्रकार अगर आप ज्यादा दिनों तक नींद को नजरअंदाज करते हैं तो आपका शरीर अनेक बीमारियों का घर बन सकता है। इसी प्रकार अगर आप जरूरत से ज्यादा सोते हैं तो भी आपको मोटापा, मधुमेह, हाई ब्लड प्रेशर, बदन दर्द, डिप्रेशन,कब्ज और हृदय संबंधी बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है।

मुझे कितनी नींद की आवश्यकता है


कुल मिलाकर  एक स्वस्थ व्यक्ति को
प्रतिदिन 6 से 8 घंटे की गहरी नींद जरूर लेनी चाहिए। वैसे प्रत्येक व्यक्ति की नींद की जरूरत अलग-अलग होती है इसलिए आप अपने शरीर की जरूरत के हिसाब से अपनी नींद को कम या ज्यादा कर सकते हैं। लेकिन जब आपका शरीर में नींद की कमी के संकेत दिखाई दे तो आपको उसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। कुछ लोग कहते हैं की बिल गेट्स , स्टीव जॉब्स, एलोन मस्क और नरेंद्र मोदी जैसे सफल लोग 2 से 4 घंटे सोते हैं। तो इसमें आश्चर्य की कोई बात नहीं है क्योंकि उन लोगों का काम ही ऐसा होता है कि उन्हें ज्यादा नींद की जरूरत नहीं होती है। लेकिन आपको दूसरे की नकल करने के बजाय अपने काम के हिसाब से अपने नींद को बैलेंस करना चाहिए।

दोस्तों उम्मीद करता हूं कि इस आर्टिकल से आपको अपने नींद के समय को सुनिश्चित करने में सहायता मिलेगी।

हमारा यूट्यूब वीडियो देखें :- 👇

हमारे साथ जुड़ने के लिए हमें आप  TwitterFacebook, और Instagram, पर फॉलो कर सकते हैं, और हमारे YouTube वीडियो देखने केे लिए हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें। धन्यवाद 🙏

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां