हस्तमैथुन के फायदे और नुकसान | hastmaithun ke labh aur haniyan

hastmaithun sawal jawab | hastmaithun right or wrong

hastmaithun ke labh aur haniya, hastmaithun sawal jawab
        Masturbation

हस्तमैथुन एक ऐसा विषय है, जिसके बारे में कोई भी व्यक्ति बात नहीं करना चाहता है। हमारी society में इसके बारे में तरह-तरह की भ्रांतियां फैली हुई है। इसलिए हर कोई इसके बारे में बात करने में शर्म और संकोच फील करता है।‌ जबकि आजकल 14 से 25 के बीच की आयु वर्ग के लोगों के लिए सबसे बड़ी समस्या हस्तमैथुन ही है। फिर भी वे इस समस्या को सबसे छिपा कर रखते हैं। क्योंकि उन्हें लगता है कि हस्तमैथुन करना एक पाप है। और ऐसा इसलिए होता है क्योंकि उन्हें इसके बारे में सही और पुरी जानकारी नहीं होती है। हालांकि इंटरनेट पर हस्तमैथुन के विषय में काफी सारी जानकारीयां मौजूद हैं लेकिन वहां भी बस रटी रटाई बातें ही बताई गई है। जिनसे और भी ज्यादा उलझनें पैदा होती है। लेकिन इस आर्टिकल में हम आपको हस्तमैथुन के बारे में पूरे विस्तार से बताएंगे कि hastmaithun right है या wrong है। इसके साथ-साथ हम हस्तमैथुन के फायदे और नुकसान के बारे में भी बात करेंगे।। और हां इस article में हम hastmaithun से संबंधित सभी सवालों के जवाब भी देंगे। तो सबसे पहले बात करते हैं कि हस्तमैथुन के कारणों के बारे में।

हस्तमैथुन की लत लगने के कारण


स्तमैथुन के कारणों को समझने के लिए हमे सबसे पहले अपने शरीर को समझना पड़ेगा। देखिए 14 से 22 के बीच जो उम्र का पड़ाव होता है वह हमारे जीवन का सबसे महत्वपूर्ण पड़ाव होता है। इसी उम्र में हमारे जीवन की रूपरेखा तैयार होती है कि हमारा जीवन कैसा होगा। उम्र के इस पड़ाव में हमारे शरीर में टेस्टोस्टोरोन नामक हार्मोन का रिसाव काफी तेजी से होता है ताकि हमारा शारीरिक और मानसिक विकास तेजी से हो सके। इसी हार्मोंन की वजह से इस उम्र में हमारे अंदर सेक्सुअल सेंसेशन बढ़ने लगता है जिसके कारण हम तरह तरह की सेक्सुअल कल्पनाएं में खोने लगते हैं। यह हमारे जीवन एक प्राकृतिक प्रक्रिया होती है। और इसी प्रक्रिया में हम कुछ उल्टे-सीधे हरकतें करने लगते हैं। जो कि एक सामान्य बात है। परंतु समस्या तब शूरू होती है, जब हमें इसकी लत लग जाती हैं।


दरअसल होता यह है कि हस्तमैथुन करने पर हमारा शरीर dopamine नामक हार्मोन रिलीज करता है जिससे हमें कुछ देर के लिए एक सुखद अहसास होता है और यही सुखद अहसास हमें बार बार अपनी ओर खींचने लगता है। हमें लगता है कि हमें यौन संतुष्टी मिल रही है। लेकिन सच्चाई यह है कि हस्तमैथुन से हमें यौन संतुष्टी नहीं मिलती बल्कि यह हमारे अंदर की वासना को और ज्यादा भड़काता है। जो हमारे जीवन को एक गलत दिशा की ओर अग्रसर करता है।

इसे बाद में पढ़ें-:  हम दुखी क्यों हैं, आखिर क्या हैै हमारेे दुख कारण 


लेकिन इसके लिए हम ना तो इन हार्मोन्स को जिम्मेदार समझते हैं और ना ही हमारे शरीर को। क्योंकि ये हार्मोन्स हमारे मन मस्तिष्क को इतना ज्यादा उत्तेजित नहीं करते कि हम हस्तमैथुन जैसी अप्राकृतिक क्रिया करने पर मजबूर हो जाए। इसके लिए हमारा आधुनिक युग और दुषित समाजिक माहौल जिम्मेदार है। इसके लिए जिम्मेदार है, " हमारी सोशल मीडिया, हमारी शिक्षा व्यवस्था और हमारी अनुचित जीवन शैली।

  • टीवी, इंटरनेट या सिनेमा"आप कहीं भी देख लो हर जगह अश्लील कंटेंट की भरमार है जो हमारे अन्दर की सेक्सुअलिटी को और भड़काती  है। इन कंटेंट को देखने सुनने और पढ़ने के बाद हमारा मस्तिष्क हमारे शरीर में काफी ज्यादा मात्रा टेस्टोस्टेरोन को डिस्चार्ज करता है जिसकी वजह से हम खुद पर कंट्रोल नहीं कर पाते।
  • दुसरी तरफ हमारे एजुकेशन सिस्टम में ना तो कोई ऐसी व्यवस्था है जो आपको सेक्स के विषय में जागरूक कर सकें और ना कहीं योग या ध्यान के द्वारा अपने मन और मस्तिष्क पर कंट्रोल करना सीखाया जाता है। हमारे स्कूलों में तो बस पैसे कमाने के तरीके सीखाये जाते हैं। इसलिए हस्तमैथुन यानी masturbation आज एक समस्या बन चुका है।
  • हस्तमैथुन के लिए कुछ हद तक हमारी अनियमित दिनचर्या और गलत खान-पान भी जिम्मेदार है। आजकल हमारे आहार में अधिकांश मांस-मछली, पिज्जा-बर्गर, चाट- चाऊमीन जैसी अत्यधिक गरिष्ठ खाद्य पदार्थों और पान, गुटखा,तम्बाकू, शराब, सिगरेट जैसी अप्राकृतिक चीजें शामिल हैं। जो हमारे शरीर के अंदर जाकर विषाक्त रसायन उत्पन्न करती है। जिसकी वजह से हमारे शरीर में टेस्टोस्टेरोन निर्माण की प्राकृतिक प्रक्रिया प्रभावित होती है। जिसके परिणामस्वरुप हमारे शरीर में हार्मोनल असंतुलन पैदा हो जाती है। जिसके कारण हमारे शरीर की गर्मी और उत्तेजना में अनियंत्रित रूप से वृद्धि हो जाती हैं। जिसका हमारे मन मस्तिष्क पर बुरा प्रभाव पड़ता है।


Hastmaithun sawal jawab


कुछ लोगों का ये भी सवाल है कि क्या हस्तमैथुन करना पाप है? तो हम यहां बता दें कि हस्तमैथुन करना कोई पाप नहीं है। ना ही इसके लिए आपको नरक की सजा मिलेगा। लेकिन बात बस इतनी है कि‌ हस्तमैथुन करके क्या आप अपने जीवन को बेहतर बना रहे हैं। बिल्कुल नहीं। आप अपने जीवन को वासना के ऐसे दलदल में धकेल रहे हैं जिसका कोई अंत नहीं है। वास्तव में कामवासना के इस दलदल को अगर नरक कहें तो यह गलत नहीं होगा। तो हमें नहीं लगता कि आप इस नरक में उतरना चाहेंगे।


इसे बाद में पढ़ें-: जानिए पाप कितने प्रकार के होते हैं।


हस्तमैथुन करना सही है या गलत


अब यहां एक प्रश्न यह भी है कि हस्तमैथुन करना सही है या गलत। तो हमारा मानना है कि यह बिल्कुल गलत है। क्योंकि यदि यह सही होता तो इसे करने के बाद आपकी अंतरात्मा आपको नहीं धिक्कारती। यदि यह सही होता तो कामसूत्र की पुुुस्तक में इसका उल्लेख जरूर मिलता। हां यह उनलोगों की नजर में सही हो सकता है। जो कामवासना को ही अपने जीवन का मुख्य उद्देश्य मानते हैं। परंतु जहां तक मेरा मानना है, नैतिक मूल्यों और आपके स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए हस्तमैथुन बिल्कुल गलत है। हां यदि यह आपसे भावावेश में कभी-कभार हो जाता हैं तो आपको अपराध बोध से ग्रस्त होने की कोई जरूरत नहीं है। आपको इसकी लत नहीं लगनी चाहिए। क्योंकि अगर आप इसके आदी हो जाते हैं तो यह आपकेे जीवन लिए सही नहीं है।‌  


हस्तमैथुन के फायदे

अब बात करते हैं इसके फायदे और नुकसान की तो यदि आप Google पर सर्च करेंगे तो लगभग सभी top website इसे promote करते दिख रहे हैं। ये लिखते हैं कि वैज्ञानिक रिसर्च के अनुसार हस्तमैथुन एक सामान्य बात है। दुनिया के 95% लोग हस्तमैथुन करते हैं क्योंकि इसे करने से खुशी मिलती है, संतुष्टी मिलती है, इसे करने से कोई नुक़सान नहीं होता इसलिए आप अपने शरीर की जरूरत के अनुसार इसे कर सकते हैं। मगर हमारे अनुभव और परीक्षण के अनुसार हस्तमैथुन करने के कई सारे नुकसान है। हां यदि आप इसे एक निश्चित सीमा तक करते हैं तो नुकसान की संभावना कुछ कम हो जाती है। हमारे हिसाब से इसे करने का सिर्फ एक फायदा है और वह यह है कि आप अपने अंदर की वासना को दबा नहीं रहे हैं। बल्कि‌ आपने उसे बाहर निकालने का एक आसान तरीका खोज लिया है। क्योंकि यदि आप अपनी कामवासना का दमन करते हैं तो यह आपके शरीर के लिए नुकसानदायक हो सकता है।


इसे बाद में पढ़ें-: स्वस्थ और सुखी जीवन के लिए आप को कितने घंटे सोना चाहिए।


हस्तमैथुन के नुक़सान

  1. हस्तमैथुन करने का सबसे बड़ा नुक़सान हैं जीवन ऊर्जा की हानि। आपको शायद पता नहीं है कि वीर्य आपके भौतिक शरीर का सबसे शक्तिशाली अंग है। शायद आपके दिमाग से भी कहीं ज्यादा शक्तिशाली। मनुष्य के शरीर से एक बार मेंं जितना वीर्य स्खलित होता है। उसमें 2 से 5 अरब जीवन होता हैं यानी उनमें 2 से 5 अरब जीवन पैदा करने की शक्ति होती है। आपके वीर्य में इतनी शक्ति है कि आप चाहे तो अपने वीर्य की शक्ति का उपयोग करके कुंडलिनी शक्ति को जागृत कर सकते हैं या आप चाहे तो इसके द्वारा आप आत्मज्ञान को उपलब्ध हो सकते है।
  2. हस्तमैथुन से दुसरा नुकसान यह है कि इससे आपका शरिरिक विकास धीमा हो सकता है। क्योंकि जब आप बहुत ज्यादा हस्तमैथुन करते हैं तो आपके शरीर से भारी मात्रा में प्रोटीन बाहर निकल जाता है। मेडिकल साइंस के अनुसार एक बार के डिस्चार्ज में 150 मिलीग्राम प्रोटीन बाहर निकल जाता है। और चुंकि वीर्य प्रोटीन से ही बनता है इसलिए जब ज्यादा हस्तमैथुन के कारण शरीर में वीर्य की कमी हो जाती है तो शरीर के विकास में लगे प्रोटीन भी वीर्य के निमार्ण कार्य में संलग्न हो जाते हैं जिसकी वजह से आपके शरीर का विकास धीमा पड़ जाता है।
  3. हस्तमैथुन से तीसरा नुकसान यह है कि आप अंदर ही अंदर अपराध-बोध महसूस करने लगते हैं। आप खुद ही अपनी नजरें मे गिरा हुआ महसूस करते हैं। अर्थात आप हीन भावना के शिकार हो जाते हैं। जिसके चलते आपके भीतर आत्मविश्वास की कमी हो जाती है। एक बार इसकी लत लगने के बाद आप ना चाहते हुए भी हस्तमैथुन करने पर मजबूर हो जाते हैं। आपका आपके मन-मस्तिष्क पर कोई नियंत्रण नहीं रहता इसलिए आप किसी भी काम पर फोकस नहीं कर पाते हैं। हस्तमैथुन की वजह से कामवासना आपके मन-मस्तिष्क पर हावी हो जाती है जिसके कारण आप हमेशा अश्लील विचारों से घिरे रहते हैं। इसी प्रकार hastmaithun के और भी कई सारे side effect होते है। जो कहीं ना कहीं आपके लाइफ पर negative effect डालते हैं।

इसे बाद में पढ़ें-: लोग आत्महत्या क्यों करते हैं? पढ़िए आत्महत्या के मूल कारणों के बारे में

हस्तमैथुन करें या ना करें

तो अब सवाल ये उठता है कि हस्तमैथुन करें या ना करें तो यह सवाल आपको खुद से ही पुछना होगा कि क्या सच में आपके शरीर को इसकी जरूरत है। क्या आप क्षणिक सुखों के लिए अपने अस्तित्व को अपनी शारिरिक जरूरतों का गुलाम बना देना चाहते हैं। और यदि कि आपको लगता है कि कुछ पलों का आनंद आपके जीवन से ज्यादा महत्वपूर्ण है तो आप हस्तमैथुन का आनंद ले सकते हैं। लेकिन यदि आपको लगता है कि आपको इसकी जरूरत नहीं है तो आप कुछ आसान तरीके अपनाकर इससे छुटकारा पा सकते हैं।

हस्तमैथुन की लत से छुटकारा पाने के उपाय

 देखिए इसके लिए सबसे पहले तो आपको अपने जीवन के प्रति जागरूक होना पड़ेगा ताकि आप यह अनुभव कर सके कि आपके जीवन में क्या सही है और क्या ग़लत। यदि आप हस्तमैथुन करना ही चाहते हैं इसे बेहोशी में करने के बजाय जागरूक अवस्था में करें। क्योंकि जागरूक अवस्था में ही आप अपने बुद्धि और विवेक का इस्तेमाल करके इसके फायदे और नुक्सान में फर्क कर सकते हैं।

  •  यदि आप हस्तमैथुन की लत से मुक्ति पाना चाहते हैं तो अपने जीवन का एक लक्ष्य तय करें और उसे पुरा करने में हमेशा व्यस्त रहें। इस तरह आपका ध्यान इन सब चीजों पर जाएंगा ही नहीं। आपको बता दें कि हस्तमैथुन के चक्कर में अधिकांश वहीं लोग पड़ते हैं जिनके पास खाली समय होता है।
  • हस्तमैथुन के लिए बुरी संगत भी काफी हद तक जिम्मेदार है इसलिए बुरी संगत से बचने की कोशिश करें।
  • आजकल के डिजिटल युग में इंटरनेट हमारी जरूरत बन चुका है लेकिन हमारे अंदर इतनी समझ होना चाहिए कि हम इसे अपने जरूरत के अनुसार ही उपयोग करें। हमें यह पता होना चाहिए कि हमें क्या देखना है और क्या नहीं देखना।
  • हस्तमैथुन की आदत से छुटकारा पाने का सबसे आसान उपाय यह है कि इसे किसी अच्छी आदत से replace कर दें। जैसे अगर आप व्यायाम नहीं करते हैं तो आज से ही व्यायाम अथवा योगासन करना शुरू कर दें।। इससेेे आपको स्वास्थ्य लाभ तो होगा ही साथ में आपको अपना खोया हुआ आत्मविश्वास भी वापस मिलेगा।
  • हस्तमैथुन की लत से छुटकारा पाने के लिए मेडिटेशन सबसे असरदार उपाय है। इसलिए आपको इसके लिए समय निकालना चाहिए। मेडिटेशन करने से आपकी मानसिक शक्ति बढ़ती है और आपके अंदर एक अद्भुत उर्जा का संचार होता है।
  • अगर आपको किताबें पढ़ना अच्छा लगता है तो खाली समय में आप अच्छी-अच्छी किताबें पढ़ सकते हैं। धार्मिक और ज्ञानवर्धक किताबें पढ़ने से आपके ज्ञान में वृद्धि होती है और आपके विचारों में खुलापन आता है। इसलिए हस्तमैथुन की लत से छुटकारा पाने के लिए यह भी अच्छा उपाय है।
  • यदि आप मांसाहारी है अथवा‌ भोजन में अधिक तेल-मसालों से युक्त खाद्य पदार्थों का प्रयोग करते हैं तो आपको अपने भोजन में इनकी मात्रा कम कर दें और सात्विक भोजन करें।
  • आप ऐसा करें कि जब भी आपके मन में हस्तमैथुन का विचार आये आप अपना ध्यान किसी दूसरी तरफ ले जाएं और तुरंत किसी दूसरे काम में व्यस्त हो जाएं। इस तरह आपका ध्यान दूसरी तरफ बंट जाएगा।
इन सभी उपायों के द्वारा आप हस्तमैथुन की आदत से झुटकारा पा सकते हैं और अपने जीवन को बेहतर बना सकते है।


आख़िर में हम एक और बात कहना चाहते हैं। बल्कि दो बातें कहना चाहते हैं। पहली बात अगर आप हफ्ते या महीने में एक दो बार हस्तमैथुन करते हैं तो इसमें कोई दिक्कत वाली बात तो नहीं है लेकिन फिर भी आपको इससे बचने की कोशिश करनी चाहिए क्योंकि इस बात की पूरी संभावना है कि आगे चलकर आपको इसकी लत लग जाएं। और दूसरी बात कि अगर आप इस आदत से छुटकारा पा चुके हैं लेकिन अंदर ही अपराध बोध से ग्रस्त हैं। अर्थात अतीत गलतियों के लिए बार-बार पछतावा करके खुद को और दुखी कर रहे हैं तो आप दूसरी गलती कर रहे हैं क्योंकि जो हो गया सो हो गया। आप बीते कल में जाकर उसे बदल नहीं सकते परंतु इस पछतावे में आप अपने वर्तमान और भविष्य को भी बर्बाद कर रहे है। इसलिए पिछली गलतियों के लिए पछताना छोड़ और अपने लक्ष्य पर ध्यान केंद्रित करें। क्योंकि सुबह का भुला यदि शाम को घर वापस आ जाएं तो उसे भुला नहीं कहते। देर से ही सही लेकिन वापस आ तो गए। इस बात के लिए तो आपको खुश होना चाहिए। क्योंकि अभी भी बहुत से लोग कामवासना के अंधरी गलियों में भटक रहे हैं।


इसे बाद में पढ़ें-: अतीत की बुरी यादों को कैसे भूलें।


हमारा युटयूब वीडियो देखें 👇

हस्तमैथुन करना सही है या गलत है



दोस्तों यदि आपके मन हस्तमैथुन से संबंधित कोई सवाल है तो अपने सवाल नीचे कमेंट बॉक्स में जरुर प्रकट करें और यदि यह आर्टिकल आपको पसंद आया हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों को शेयर करें। हमारे  साथ जुड़े रहने के लिए हमें Facebook, और Instagram जरूर फॉलो करें। आप हमारे YouTube channel पर जाकर हमारा motivational video भी देख सकते हैं।

धन्यवाद 🙏

एक टिप्पणी भेजें

9 टिप्पणियाँ

  1. hello sir' sir mujhe hastmaithun karte hue lagbhag 6/7 yers ho gyy /lekin aisa nahi h mai roz krta hu han ho jaata hai kabhi kbhi roz ho jaata h /baise to sir mai ek hafte me kabhi kabhi 2 /3 ya 4 baar bhi ho jaata h baise thoda control bhi kar leta hu /lekin aadat nahi choot rahi hai /chodna cha raha hu sir mai/aur sir ek baat meri girlfrnd hai darta hu sir mai ki pahili baar sex krungaa to kise hoga mujhe usne bola bhi tha maine mna kr dia , to sir aap btaaiye pahli baar kaise krungaa sex /maine isliyee nahi kiyaa socha nahin ho paayega to saayd niraash ho jaay )ye problem hai sir)plsss help mee

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. aapko tension lene ki koi jarurat nahi hai, bus jayada se jayada healthy bhojan kare, aur is article me hamne jo baten batai hai use follow karen. sab thik ho jayega.

      हटाएं
  2. sir I AM 17 year old boy mai char saal se hastmaithun kar raha hu chhodne ki kosis ki 3 month roka but ek baar phir kar chuka hu sir hamesha ke liye kaise chhode pease healp me

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. tension na le aur artical me jo baten bataen gai hai use follow Karen yaqeenan aapki ye buri aadat chhut jayegi.

      हटाएं
  3. Sir मेरी उम्र 16 साल है और मैं 2 साल से masturbat कर रहा हूं में इस से छुटकारा पाना चाहता हूं मेरी कोई मदद कीजिए sir

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. इस आर्टिकल में मैंने वह सभी उपाय बताए हैं। जिसको अपना कर आप इस आदत से छुटकारा पा सकते हैं।

      हटाएं
  4. Sir में gym में जाता हूं और में masturbat करता हूं क्या masturbat करने से मेरी body building पर असर पड़ेगा

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. यदि आप महीने में एक-दो बार करते हैं तो कोई खास असर नहीं पड़ेगा। लेकिन अगर इससे ज्यादा करते हैं तो बिल्कुल असर पड़ेगा।

      हटाएं

Thanks for your opinion