सपने कैसे सच होते है | dreams meaning in hindi

sapne Kaise sach hote hai|sapne sach hote hai ya nahi

sapne Kaise sach hote hain, sapne sach hote hain ya nahin
           dreams definition in life

हमें नहीं पता कि आपका सपना क्या है। आप ips बनना चाहते हैं, doctor बनना चाहते हैं। actor बनना चाहते हैं या cricketer बनना चाहते हैं। लेकिन इतना तो मैं जान ही गया हूं कि जरूर आपने कोई बड़ा सपना देखा होगा। तभी आपने इस article पर क्लिक किया है। तो यदि आप अपने सपने के प्रति गंभीर है तो इस article को पूरे ध्यान से जरूर पढ़ना। आज हम आपको बताएंगे कि सपने कैसे सच होते हैं।


कौन से सपने सच होते हैं

"सपने उन्हीं के साथ होते हैं जिनके सपनों में जान होती है।,
 पंखों से कुछ नहीं होता दोस्त हौसलों से उड़ान होती है।"

सबने पहले तो हम आपको बधाई देना चाहते हैं क्योंकि आपने अपने सपनों की तरफ कदम बढ़ाने का साहस किया है। अधिकांश लोगों में इतना भी साहस नहीं होता कि वे सपने की तरह कदम बढ़ाने का साहस भी कर सकें। दरअसल बात यह है कि वे रिस्क लेने से डरते हैं। वे डरते हैं‌ बदलाव से। वे सोचते हैं कि अगर वे असफल हो गए तो क्या होगा।‌ वे‌ डरते हैं कि अगर सपने टूट गए तो क्या होगा। और शायद वे ठीक ही सोचते हैं क्योंकि जो व्यक्ति पानी को देखकर ही डर जाए। (डर क्या है और डर से छुटकारा कैसे पाएं) वह भला नदी को कैसे पार करेंगा। वैसे भी बड़े सपने देखना छोटी सोच वाले लोगों के बस की बात नहीं है। इसलिए बहुत कम लोग ही होते हैं, जो अपने सपनों की दुनिया बसाने में कामयाब हो पाते हैं। बहुत कम लोग ही अपने सपनों को अपना बना पाते हैं। क्योंकि सपनों को हकीकत में तब्दील करना इतना आसान नहीं होता। खासकर तब जब आपको शुरुआत जीरो से करनी होती है। लेकिन सपनों को सच बनाना असंभव भी नहीं है। दुनिया में कुछ भी असंभव नहीं है। अगर आप सपने देख सकते हैं तो उसे पूरा भी कर सकते हैं। लेकिन इसके लिए आपको कड़े इम्तिहान से गुजरना होगा। इसलिए इससे पहले की आप अपने सपनों पर काम करना शुरू करें। हम आपसे तीन सवाल पूछना चाहते हैं।
  1.  क्या आप अपने सपनों से प्यार करते हैं?
  2. क्या आप अपने सपनों की कीमत चुकाने को तैयार है?
  3. क्या आपका सपना इतना कीमती है कि इसके लिए कोई भी कीमत चुकाई जा सकती है?
अगर आपका जवाब "नहीं" है तो अच्छा होगा आप अपने सपने को भूल जाओ। परंतु यदि आपका जवाब "हां" है तो आप इन तीन चरणों में अपने सपनों पर काम करना शुरू कर सकते हैं।

सपनों को ऐसे बनाएं अपना


महान विचारक हेनरी डेविड थोरयू ने एक बार लिखा था। "अगर आपने अपने सपनों का किला हवा में बना रखा है तो कोई बात नहीं। अब काम में जुट जाएं और उसके नीचे उसकी नींव भी बना डालें।"
  • अतः सबने पहले चरण में अपने सपने को जीना शुरू करें। यदि आप अपने सपने को सच होते हुए देखना चाहते हैं तो उसे अपनी कल्पनाओं में जीना शुरू कर दे। दिन-रात, सोते-जागते, उठते बैठते केवल उसके बारे में ही सोचें। आपके अंदर अपने सपनों के लिए इतना जूनून होना चाहिए। जितना प्यार में प्रेमी-प्रेमिकाओं को होता है। सोचें कि यदि आपके सपने पूरे हो गए तो आपकी जिंदगी कैसी होगी। कल्पना करें कि आपके सपने पूरे हो गए हैं और आप अपनी मनपसंद जिंदगी जी रहे हैं। आकर्षण के नियम के अनुसार अगर आप बार-बार किसी चीज के बारे में सोचते हैं, बार-बार उसकी कल्पना करते हैं तो वह चीज एक ना एक दिन आपके जीवन में आ ही जाती है। ( इसे बाद में पढ़ें- आकर्षण का नियम कैसे काम करता है)
मनोवैज्ञानिकों का कहना है कि हमारे सपनों का 90% हिस्सा तुरंत खो जाता है। अतः इससे पहले कि आपके सपने खो जाएं।
  •  दूसरे चरण में उसे एक कागज पर उतार लें। फिर उसमें से चुनाव करें के कौन सा सपना आपके लिए सबसे कीमती है। वह कौन सा‌ सपना है। जिसके लिए आप कुछ भी करने को तैयार हैं। फिर उसके लिए रणनीति तैयार करें। अपने सपने को पूरा करने लिए आपको क्या करना है, कैसे करना है, और कितने दिनों में पूरा करना है। उसकी एक योजना बनाएं। एक योजनाबद्ध तरीके से अपने सपनों की तरफ कदम बढ़ाए। प्रतिदिन रात को उस कागज को खोलें और पढ़ें। प्रतिदिन रात को सोने से पहले और सुबह उठने के बाद अपने सपनों का विश्लेषण करें।

कहा जाता है कि इस शुभ काम में देर नहीं करनी चाहिए इसीलिए इससे पहले आपके सपने खो जाए। तुरंत काम शुरू कर दें।
  • अब आपके पास एक आईडिया तैयार है। अब तीसरे चरण में आपको बस उस पर काम करना है। क्योंकि सपना कितना भी बड़ा हो उसकी शुरूआत हमेशा एक छोटे कदम से होती है। इसलिए बिना देर किए काम शुरू करें। तलाश करें कि आपके अंदर कितनी संभावनाएं हैं। सोचें कि आप अपने आप को कैसे बेहतर बना सकते हैं। इसके लिए अकेले में ज्यादा से ज्यादा समय बिताएं। अपने कार्यक्षेत्र से जुड़े किताबें पढ़ें। आडियो वीडियो सुने और अपने ज्ञान का बढ़ाने का प्रयास करें। खुद पर समय इन्वेस्ट करें। जरुरत पड़े तो पैसा भी इन्वेस्ट करें। (बाद में पढ़ें- क्या पैसा ही सब कुछ होता है)

सपनों की कीमत 

 हां एक और बात हमेशा याद रखना - जीवन में कोई भी चीज हासिल करने के लिए उसकी कीमत चुकानी होती है। और आपको भी वह कीमत चुकानी होगी। हो सकता है कि आपका यह फैसला आपके सामने मुसीबतों का पहाड़ खड़ा कर दें इसलिए आपको भविष्य में आने वाली तमाम मुश्किलों का सामना करने के लिए तैयार रहना पड़ेगा। लोग आप पर हंसेंगे, आप का मजाक उड़ाएंगे इसलिए आपको लोगों की आलोचनाओं और अपमानजनक परिस्थितियों को झेलने के लिए तैयार रहना होगा। हो सकता है कि आपके अपने लोग भी आपका साथ छोड़ दें आप का विरोध करें इसलिए आपको बहुत सारी असफलताओं और दर्द भरे पलों के लिए तैयार रहना होगा। आपके जीवन में कई बार ऐसा वक्त भी आयेगा। जब आप रो-रोकर कर ईश्वर से कहेंगे हे ईश्वर मेरे साथ ही ऐसा क्यों हो रहा है। मैं क्या गलती करी थी जिसकी सजा भुगतनी पड़ रही है। इतना कई बार तो आपको खुद पर शक भी होगा कि कहीं मेरा फैसला गलत तो नहीं है। बहुत बार सब कुछ छोड़-छाड कर बैठ जाने को दिल करेगा। लेकिन आपको अपने सपने को छोड़ना नहीं है। चाहे कुछ भी हो जाए आपको हार नहीं माननी है। (जीवन में हार मानने से पहले इसे एक बार जरूर पढ़ लेना) यदि आप अपने सपने को सच होते हुए देखना चाहते हैं तो आपको लागातार हद पार मेहनत करनी होगी। आपके अंदर अपने सपनों के लिए इतना जूनून होना चाहिए। जितना प्यार में प्रेमीयों को होता है। ऐसा जुनून जो आपको सपने के लिए पागल कर दे। अगर आपके अंदर इतना जुनून है तो मैं गारंटी देता हूं कि एक दिन ऐसा आयेगा जब आपके परिवार को, आपके देश को आप पर गर्व होगा। यकीनन वह दिन जरूर आयेगा, जब आप अपने सपने को जी सकते हैं।

आपको यह भी पसंद आएगी। 👇





दोस्तों इस आर्टिकल के विषय में अपनी नीचे कमेंट बॉक्स में अपनी राय जरुर प्रकट करें। और यदि आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और हमारे साथ जुड़ने के लिए हमारे ब्लॉग के सदस्य बनें। धन्यवाद

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ